Searching...
Saturday, May 22, 2021

नव गठित ग्राम पंचायतों के प्रधानों एवं सदस्यों के शपथ ग्रहण एवं प्रथम बैठक सम्बन्धी आदेश जारी

नव गठित ग्राम पंचायतों के प्रधानों एवं सदस्यों के शपथ ग्रहण एवं प्रथम बैठक सम्बन्धी आदेश जारी।

नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान 25-26 मई को लेंगे वर्चुअल शपथ, पहली बैठक 27 मई को,  गठन की अधिसूचना कल होगी जारी

नवनिर्वाचित प्रधानों ने इस काम से किया मना तो तुरंत चली जाएगी प्रधानी, पंचायती राज विभाग ने जारी किया आदेश

 
अगर कोई प्रधान या सदस्य शपथ लेने और शपथ पत्र पर हस्ताक्षर करने से इनकार करता है या अन्य प्रकार से उसे अस्वीकृत करता है तो यह समझा जाएगा कि उसने तत्काल अपना पद रिक्त कर दिया है। पंचायती राज अधिकारियों ने इस संबंध में सोमवार को निर्देश सभी जिलों को भेज दिए हैं। प्रदेश में हुए त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव में नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सदस्यों का आनलाइन शपथ ग्रहण मंगलवार 25 मई से शुरू होकर 26 मई तक चलेगा। सभी जिलों के जिलाधिकारियों की देखरेख में जिला पंचायत राज अधिकारियों ने इस आनलाइन शपथ ग्रहण की तैयारी पूरी कर ली थी।

पंचायतीराज विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने सभी जिलाधिकारियों को जरूरी निर्देश जारी करते हुए कहा है कि संयुक्त प्रांत पंचायतीराज अधिनियम-1947 की धारा 12 ड. (2) में यह स्पष्ट प्रावधान है कि अगर कोई प्रधान या सदस्य शपथ लेने और शपथ पत्र पर हस्ताक्षर करने से इनकार करता है या अन्य प्रकार से उसे अस्वीकृत करता है तो यह समझा जाएगा कि उसने तत्काल अपना पद रिक्त कर दिया है। 

शपथ ग्रहण के बाद हस्ताक्षर युक्त शपथ पत्रों की जांच कर के ग्राम प्रधानों के शपथ पत्र जिला पंचायत राज अधिकारी के पास और ग्राम पंचायत सदस्यों के शपथ पत्र खण्ड विकास अधिकारी के पास सुरक्षित रखने के लिए सौंप दिए जाएंगे। इस आनलाइन शपथग्रहण के लिए प्रत्येक जिले के हर ब्लाक को कमाण्ड सेण्टर बनाया गया है, जहां खण्ड विकास अधिकारी इस आनलाइन शपथग्रहण की निगरानी करेंगे। नव निर्वाचित ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सदस्य सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पंचायत भवन या सामुदायिक केन्द्र में एकत्रित होंगे। जहां पंचायत सचिव इण्टरनेट कनेक्टिविटी वाले लैपटाप के साथ मौजूद रहेंगे। 

प्रत्येक ब्लाक की कुल पंचायतों को एक निर्धारित संख्या में विभाजित कर दिया गया है और उन्हें पंचायत भवन में आनलाइन शपथ ग्रहण के लिए समय आवंटित कर दिया गया है। दो-दो घण्टे के इस टाईम स्लाट में एक साथ कई ग्राम पंचायतों के नवनिर्वचित प्रतिनिधि पंचायत सचिव की मौजूदगी में आनलाइन शपथ ग्रहण करेंगे। शपथ ग्रहण करने के बाद यह प्रतिनिधि पहले से मुद्रित करवाये शपथ पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे, अपना पूरा नाम लिखेंगे, स्थान का नाम लिखेंगे और तारीख अंकित करेंगे।


 लखनऊ : नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों व ग्राम पंचायत सदस्यों को 25 व 26 मई को शपथ ग्रहण करायी जाएगी। पहली बार शपथ वीडियो कांफ्रेंसिंग या वचरुअल माध्यम से दिलायी जा रही है। ग्राम पंचायतों के गठन की अधिसूचना 24 मई को जारी होगी। शपथ समारोह होने के बाद नवगठित ग्राम पंचायतों की पहली बैठक 27 मई को पूरे प्रदेश में एक साथ आयोजित की जाएगी।


शनिवार को अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह ने शपथ ग्रहण कराने के आदेश जारी किए। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि कोरोना महामारी की गंभीरता को देखते हुए शपथ ग्रहण कराने की औपचारिकताएं पूरी की जाएं। जिलाधिकारी 24 मई को ग्राम पंचायत गठन की अधिसूचना जारी करें। 25-26 मई को शपथ ग्रहण कराने के बाद नवगठित ग्राम पंचायतों की पहली बैठक 27 मई को पूरे प्रदेश के गांवों में एक साथ आयोजित करने की व्यवस्था हो। 


कोरोना संक्रमण को देखते हुए बड़ी संख्या में निर्वाचित प्रतिनिधियों की शपथ का समारोह ब्लाक मुख्यालयों पर आयोजित कराना संभव नहीं होगा। इसलिए वचरुअल शपथ दिलाये जाने का निर्णय किया है। नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को जिलाधिकारी द्वारा नामित अधिकारी वीडियो क्रान्फ्रेंसिंग अथवा वचरुअल माध्यम से शपथ दिलवाएंगे। सभी प्रतिनिधि अपने ग्राम में ही पंचायत घर, सामुदायिक भवन या ग्राम पंचायत क्षेत्र स्थित कॉमन सर्विस सेंटर में शपथ लेंगे।


..तो 30 प्रतिशत ग्राम पंचायतों में नहीं होगी शपथ
केवल उन्हीं ग्राम पंचायतों में शपथ दिलायी जाएगी, जहां ग्राम प्रधान व कम से कम दो तिहाई पंचायत सदस्य निर्वाचित हुए हों। 58,176 ग्राम पंचायतों में प्रधान के अलावा 731813 पंचायत सदस्य भी निर्वाचित होने थे परंतु ग्राम पंचायत सदस्यों की संख्या 30 प्रतिशत गांवों में पूरी नहीं हो सकी। ऐसे गांवों को चिह्न्ति किया जा रहा है। वहां उपचुनाव होने व ग्राम पंचायत का कोरम पूरा होने के बाद ही शपथ ग्रहण कार्यक्रम होगा।

शपथ पत्र की प्रतियां उपलब्ध होंगी
शपथ ग्रहण कार्यक्रम वर्चुअल होने के कारण सभी जानकारियां निर्वाचित प्रतिनिधियों को समय से उपलब्ध कराने को कहा गया है। इसके लिए लैपटाप आदि की व्यवस्था भी समय से की जाएगी। ग्राम पंचायत सचिव सहयोग करेंगे और शपथ पत्र की पर्याप्त प्रतियां उपलब्ध कराएंगे।
















 

संबन्धित खबरों के लिए क्लिक करें

GO-शासनादेश NEWS अनिवार्य सेवानिवृत्ति अनुकम्पा नियुक्ति अल्‍पसंख्‍यक कल्‍याण अवकाश आंगनबाड़ी आधार कार्ड आयकर आरक्षण आवास उच्च न्यायालय उच्‍च शिक्षा उच्चतम न्यायालय उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड उपभोक्‍ता संरक्षण एरियर एसीपी ऑनलाइन कर कर्मचारी भविष्य निधि EPF कामधेनु कारागार प्रशासन एवं सुधार कार्मिक कार्यवाही कृषि कैरियर कोर्टशाला कोषागार खाद्य एवं औषधि प्रशासन खाद्य एवम् रसद खेल गृह गोपनीय प्रविष्टि ग्रामीण अभियन्‍त्रण ग्राम्य विकास ग्रेच्युटी चतुर्थ श्रेणी चयन चिकित्सा चिकित्‍सा एवं स्वास्थ्य चिकित्सा प्रतिपूर्ति छात्रवृत्ति जनवरी जनसंख्‍या जनसुनवाई जनसूचना जनहित गारण्टी अधिनियम धर्मार्थ कार्य नकदीकरण नगर विकास निबन्‍धन नियमावली नियुक्ति नियोजन निर्वाचन निविदा नीति न्याय न्यायालय पंचायत चुनाव 2015 पंचायती राज पदोन्नति परती भूमि विकास परिवहन पर्यावरण पशुधन पिछड़ा वर्ग कल्‍याण पीएफ पुरस्कार पुलिस पेंशन प्रतिकूल प्रविष्टि प्रशासनिक सुधार प्रसूति प्राथमिक भर्ती 2012 प्रेरक प्रोबेशन बजट बर्खास्तगी बाट माप बेसिक शिक्षा बैकलाग बोनस भविष्य निधि भारत सरकार भाषा मकान किराया भत्‍ता मत्‍स्‍य मंहगाई भत्ता महिला एवं बाल विकास माध्यमिक शिक्षा मानदेय मानवाधिकार मान्यता मुख्‍यमंत्री कार्यालय युवा कल्याण राजस्व राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद राज्य सम्पत्ति राष्ट्रीय एकीकरण रोक रोजगार लघु सिंचाई लोक निर्माण लोक सेवा आयोग वरिष्ठता विकलांग कल्याण वित्त विद्युत विविध विशेष भत्ता वेतन व्‍यवसायिक शिक्षा शिक्षा शिक्षा मित्र श्रम सचिवालय प्रशासन सत्यापन सत्र लाभ सत्रलाभ समन्वय समाज कल्याण समाजवादी पेंशन समारोह सर्किल दर संवर्ग संविदा संस्‍थागत वित्‍त सहकारिता सातवां वेतन आयोग सामान्य प्रशासन सार्वजनिक उद्यम सार्वजनिक वितरण प्रणाली सिंचाई सिंचाई एवं जल संसाधन सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम सूचना सेवा निवृत्ति परिलाभ सेवा संघ सेवानिवृत्ति सेवायोजन सैनिक कल्‍याण स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन स्थानांतरण होमगाडर्स