Searching...
Tuesday, October 22, 2019

डायल 112 बनेगा बुजुर्गों का मददगार, यूपी पुलिस अपना आपातकालीन हेल्पलाइन नम्बर 100 से बदल कर करेगी 112, नई सुविधाएं भी जुड़ेंगी

डायल 112 बनेगा बुजुर्गों का मददगार, यूपी पुलिस अपना आपातकालीन हेल्पलाइन नम्बर 100 से बदल कर करेगी 112, नई सुविधाएं भी जुड़ेंगी। 

डायल 112 बनेगा बुजुर्गों का मददगार
22 Oct 2019



यूपी पुलिस अपना आपातकालीन हेल्पलाइन नंबर बदलने के साथ ही कुछ नई सुविधाएं भी शुरू करने जा रही है। नया हेल्पलाइन नंबर-112 डायल कर वरिष्ठ नागरिक अपना पंजीकरण करा सकेंगे। उनके नाम-पते फोन की जानकारी मिलने के बाद स्थानीय थाने का सिपाही उनसे संपर्क कर विस्तृत जानकारी लेगा। इस तरह वरिष्ठ नागरिकों के लिए पुलिस सुरक्षा कवच का काम करेगी।


वरिष्ठ नागरिकों के लिए चलेगा दो महीने का अभियान: अपनी इस नई पहल ‘सवेरा' के तहत यूपी पुलिस डायल-100 की वर्तमान सेवाओं को आगे बढ़ाते हुए 112 के रूप में गुणात्मक सुधार करने जा रही है। इसमें वरिष्ठ नागरिकों का पंजीकरण, बेहतर प्रतिक्रिया और सामुदायिक पुलिसिंग शामिल है। प्रथम चरण में वरिष्ठ नागरिकों (60 वर्ष से अधिक उम्र) पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। इसके तहत दो महीने का प्रदेशव्यापी अभियान चलाया जाएगा। प्राथमिक पंजीकरण केवल 112 डायल करने कराया जा सकेगा। वरिष्ठ नागरिक 112 डायल करके अपना नाम, पता व फोन नंबर जैसी प्राथमिक जानकारी देंगे। इसके बाद गहन पंजीकरण होगा।


फोन करते ही दिखेगा पूरा ब्योरा: पुलिस विभाग का कहना है कि पंजीकृत नागरिक द्वारा 112 डायल करते ही कॉल टेकर की स्क्रीन पर पूरी जानकारी दिखेगी, जिससे बेहतर तरीके से शिकायत दर्ज की जा सकेगी। मदद में जा रहे पीआरवी कर्मियों के पास भी पूरी सूचनाएं होंगी। कार्रवाई के बाद सिस्टम में सूचना अपडेट की जाएगी।


सिपाही फोन कर मिलने का समय लेगा
थाना बीट स्टाफ फोन कर मिलने का समय लेगा और टैब लेकर मिलेगा। बीट स्टाफ पहचान, रिश्तेदार, सेहत, परेशानियां व निवास स्थान आदि की इंट्री करेगा। यदि थाने पर टैब उपलब्ध नहीं होगा तो बीट कांस्टेबल कागज के फार्म पर सूचनाएं भरकर देगा, जिसे बाद में थाने के कम्प्यूटर में भरा जाएगा।

संबन्धित खबरों के लिए क्लिक करें

GO-शासनादेश NEWS अनिवार्य सेवानिवृत्ति अनुकम्पा नियुक्ति अल्‍पसंख्‍यक कल्‍याण अवकाश आंगनबाड़ी आधार कार्ड आयकर आरक्षण आवास उच्च न्यायालय उच्‍च शिक्षा उच्चतम न्यायालय उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड उपभोक्‍ता संरक्षण एरियर एसीपी ऑनलाइन कर कर्मचारी भविष्य निधि EPF कामधेनु कारागार प्रशासन एवं सुधार कार्मिक कार्यवाही कृषि कैरियर कोर्टशाला कोषागार खाद्य एवं औषधि प्रशासन खाद्य एवम् रसद खेल गृह गोपनीय प्रविष्टि ग्रामीण अभियन्‍त्रण ग्राम्य विकास ग्रेच्युटी चतुर्थ श्रेणी चयन चिकित्सा चिकित्‍सा एवं स्वास्थ्य चिकित्सा प्रतिपूर्ति छात्रवृत्ति जनवरी जनसंख्‍या जनसुनवाई जनसूचना जनहित गारण्टी अधिनियम धर्मार्थ कार्य नकदीकरण नगर विकास निबन्‍धन नियमावली नियुक्ति नियोजन निर्वाचन निविदा नीति न्याय न्यायालय पंचायत चुनाव 2015 पंचायती राज पदोन्नति परती भूमि विकास परिवहन पर्यावरण पशुधन पिछड़ा वर्ग कल्‍याण पीएफ पुरस्कार पुलिस पेंशन प्रतिकूल प्रविष्टि प्रशासनिक सुधार प्रसूति प्राथमिक भर्ती 2012 प्रेरक प्रोन्‍नति प्रोबेशन बजट बर्खास्तगी बाट माप बेसिक शिक्षा बैकलाग बोनस भविष्य निधि भारत सरकार भाषा मकान किराया भत्‍ता मत्‍स्‍य मंहगाई भत्ता महिला एवं बाल विकास माध्यमिक शिक्षा मानदेय मानवाधिकार मान्यता मुख्‍यमंत्री कार्यालय युवा कल्याण राजस्व राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद राज्य सम्पत्ति राष्ट्रीय एकीकरण रोक रोजगार लघु सिंचाई लोक निर्माण लोक सेवा आयोग वरिष्ठता विकलांग कल्याण वित्त विद्युत विविध विशेष भत्ता वेतन व्‍यवसायिक शिक्षा शिक्षा शिक्षा मित्र श्रम सचिवालय प्रशासन सत्यापन सत्र लाभ सत्रलाभ समन्वय समाज कल्याण समाजवादी पेंशन समारोह सर्किल दर संवर्ग संविदा संस्‍थागत वित्‍त सहकारिता सातवां वेतन आयोग सामान्य प्रशासन सार्वजनिक उद्यम सार्वजनिक वितरण प्रणाली सिंचाई सिंचाई एवं जल संसाधन सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम सूचना सेवा निवृत्ति परिलाभ सेवा संघ सेवानिवृत्ति सेवायोजन सैनिक कल्‍याण स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन स्थानांतरण होमगाडर्स