Searching...
Sunday, March 29, 2020

पीएम केयर्स फंड में आप भी दे सकते हैं दान, जाने क्या है तरीका?

कोरोना महामारी से जंग में मोदी ने मांगा दान, पीएम केयर्स फंड बनाया। 

पीएम केयर्स फंड में आप भी दे सकते हैं दान, यह है तरीका


देश में कोरोना को देखते हुए किसी आपात या संकट की स्थिति से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने प्राइम मिनिस्टर सिटीजन असिस्टेंस एंड रिलीफ इन इमरजेंसी सिचुएशन फंड (पीएम केयर्स फंड) नाम से पब्लिक चैरिटेबल फंड की स्थापना की है। पीएम केयर फंड में आपकी छोटी सी राशि भी कोरोना से लड़ाई में बड़ी भूमिका निभा सकती है। अगर आपने अभी तक इसमें अपना सहयोग नहीं दे पाए हैं तो देर न करें। ये हैं तरीके, जिनके जरिए आप भी कोरोना के खिलाफ इस जंग में अपना आर्थिक सहयोग दे सकते हैं..

पीएम केयर्स फंड में कैसे दान करें ?
देश का कोई भी नागरिक और संस्थाएं वेबसाइट pmindia.gov.in पर जा सकते हैं और पीएम केयर्स फंड में दान कर सकते हैं. इसके लिए जानकारी इस प्रकार है:


अकाउंट का नाम: PM CARES
अकाउंट नंबर: 2121PM20202
IFSC कोड: SBIN0000691
SWIFT कोड : SBININBB104
बैंक और ब्रांच का नाम: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, 
                              नई दिल्ली मेन ब्रांच

UPI ID : pmcares@sbi


■ ऑनलाइन भी कर सकते हैं डोनेशन

इसके अलावा फंड में डोनेशन करने के लिए pmindia.gov.in वेबसाइट पर जाकर डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। आप वहां इंटरननेट बैंकिंग, UPI ( Amazon Pay, Google Pay, PayTM, BHIM, PhonePe, Mobikwik आदि ) के जरिए भुगतान कर सकते हैं. इसके अलावा भुगतान के लिए RTGS और NEFT का भी माध्यम उपलब्ध है। इस डोनेशन को सेक्शन 80(G) के तहत इनकम टैक्स से छूट भी मिलेगी।



■ ये हैं दानवीर

● देश भर में हवाई अड्डों का परिचालन करने वाली सरकारी कंपनी भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) और उसके कर्मचारियों ने कोरोना वायरस 'कोविड-19' से लड़ने के लिए 35 करोड़ रुपये का योगदान दिया है। 
● जेएसडब्ल्यू ग्रुप ने 100 करोड़ रुपये देने की घोषणा की है
● बॉलीवुड के सुपरस्टार अक्षय कुमार ने शनिवार को प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष (पीएम केयर्स फंड) में 25 करोड़ रुपये की राशि देने की घोषणा की। 
● सुपरस्टार रजनीकांत ने सबसे पहले 50 लाख रुपये दिहाड़ी मजदूरों के लिए दान दिए थे। दक्षिण के अन्य अभिनेताओं में प्रभास, महेश बाबू, पवन कल्याण, राम चरण समेत कई अन्य अभिनेताओं ने भी दान दिए हैं।
● पूर्व भारतीय बल्लेबाज सुरेश रैना ने शनिवार को 52 लाख रुपये (31 लाख रुपये प्रधानमंत्री राहत कोष और 21 लाख रुपये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के आपदा राहत कोष को) कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिये दान दिया। 
● महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने शुक्रवार को इस महामारी से लड़ने के लिए 50 लाख रुपये दिए थे। 
● 50 लाख रुपये दिए  कपिल ने प्रधानमंत्री राहत कोष में 


◆  कॉरपोरेट दिलेरी का एक सबसे बड़ा नमूना पेश करते हुए टाटा संस और टाटा ट्रस्ट ने शनिवार को कोविड-19 से लड़ाई के लिए संयुक्त रूप से 1,500 करोड़ रुपये की घोषणा की।
टाटा ट्रस्ट ने 500 करोड़ रुपये की घोषणा की, वहीं टाटा संस ने कोविड-19 और उससे संबंधित राहत गतिविधियों के लिए अतिरिक्त 1000 करोड़ रुपये की घोषणा की। 
◆ खेलमंत्री किरेन रिजिजू ने देश को कोरोना वायरस प्रकोप के खिलाफ लड़ने के लिए एक करोड़ रुपये का दान दिया है। 
◆ केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने शनिवार को अपनी सांसद निधि से एक करोड़ रुपये और एक महीने का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में देने का ऐलान किया है। 
◆ उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश जस्टिस एन.वी. रमण ने शनिवार को प्रधानमंत्री राहत कोष समेत अनेक राहत कोषों में तीन लाख रुपये देने की घोषणा की है। 
◆ ईपीएस (इंप्लॉइज पेंशन स्कीम)-95 के पेंशनधारकों ने कोरोनावायरस की महामारी से निपटने के लिए अपनी एक दिन की पेंशन को स्वैच्छिक रूप से सरकारी खजाने में जमा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है।
◆ भाजपा की पश्चिम बंगाल की सांसद लॉकेट चटर्जी ने कोरोना वायरस महामारी के राहत कार्यों के लिए अपने एक महीने का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करने का निर्णय लिया है। 
◆ वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस को रोकने और उसका निदान तलाशने के लिए किए जा रहे उपायों में अपनी सांसद निधि से एक करोड़ रुपये का योगदान किया है।
◆ वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने भी कोविड- 19 के खिलाफ जारी लड़ाई में अपनी स्थानीय क्षेत्र विकास सांसद निधि से एक करोड़ रुपये के योगदान की जानकारी दी है।
◆ जम्मू-कश्मीर से भाजपा के तीन सांसदों और पूर्व विधायकों ने प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष में अपना एक महीने का वेतन देने का फैसला किया है। 
◆ देश की सबसे धनवान खेल संस्था भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने प्रधानमंत्री राहत कोष में 51 करोड़ रुपये देने की घोषणा शनिवार को की। बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली, मानद सचिव जय शाह और बोर्ड के पदाधिकारियों ने राजय एसोसिएशनों के साथ शनिवार को इस आशय की घोषणा की। 
◆ कवि कुमार विश्वास ने पीएम केयर्स फंड में पांच लाख रुपये दिए हैं। 



कोरोना के खिलाफ जंग में ये भी आए आगे

★  मुकेश अंबानी, चेयरमैन, रिलायंस इंडस्ट्रीजः महाराष्ट्र मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपए दिए। रिलायंस फाउंडेशन ने बीएमसी के साथ मिलकर मुंबई के सेवन हिल्स हॉस्पिटल में कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए 100 बेड का सेंटर बनाया है। महाराष्ट्र के लोधीवली में आइसोलेशन सेंटर भी बनाया है।
★  अनिल अग्रवाल, चेयरमैन, वेदांता रिसोर्सेजः कोरोनावायरस से लड़ने के लिए 100 करोड़ रुपए की मदद का ऐलान किया है।
★  आनंद महिंद्रा, चेयरमैन, महिंद्रा ग्रुपः महिंद्रा ग्रुप अपनी यूनिट्स में वेंटिलेटर बनाएगा, ताकि कोरोना के मामले बढ़ने पर देश में वेंटीलेटर की कमी न हो। महिंद्रा ने अपनी हॉलीडे कंपनी क्लब महिंद्रा को भी मरीजों की देखभाल के लिए खोलने का प्रपोजल दिया है। महिंद्रा अपनी 100% सैलरी कोविड-19 फंड में देंगे। यह फंड छोटी इंडस्ट्री और डेली वेजेज पर काम करने वाले लोगों की मदद के लिए बनाया गया है।
★  पंकज एम मुंजाल, चेयरमैन, हीरो साइकल्सः कोरोनावायरस से निपटने के लिए कंपनी के इमरजेंसी फंड में से 100 करोड़ रुपए देंगे।
★  बजाज ग्रुपः हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर करने, खाने और रहने के इंतजाम करने के लिए 100 करोड़ रुपए देने का ऐलान किया है।
★  विजय शेखर शर्मा, फाउंडर-सीईओ, पेटीएमः पेटीएम वेंटिलेटर और दूसरे जरूरी सामान बनाने वालों को 5 करोड़ रुपए की मदद करेगी।
★  सन फार्माः 25 करोड़ रुपए की दवाएं और सैनिटाइजर दान करेगी।
★  पारलेः कंपनी अगले तीन हफ्ते में बिस्किट के 3 करोड़ पैकेट बांटेगी।

संबन्धित खबरों के लिए क्लिक करें

GO-शासनादेश NEWS अनिवार्य सेवानिवृत्ति अनुकम्पा नियुक्ति अल्‍पसंख्‍यक कल्‍याण अवकाश आंगनबाड़ी आधार कार्ड आयकर आरक्षण आवास उच्च न्यायालय उच्‍च शिक्षा उच्चतम न्यायालय उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड उपभोक्‍ता संरक्षण एरियर एसीपी ऑनलाइन कर कर्मचारी भविष्य निधि EPF कामधेनु कारागार प्रशासन एवं सुधार कार्मिक कार्यवाही कृषि कैरियर कोर्टशाला कोषागार खाद्य एवं औषधि प्रशासन खाद्य एवम् रसद खेल गृह गोपनीय प्रविष्टि ग्रामीण अभियन्‍त्रण ग्राम्य विकास ग्रेच्युटी चतुर्थ श्रेणी चयन चिकित्सा चिकित्‍सा एवं स्वास्थ्य चिकित्सा प्रतिपूर्ति छात्रवृत्ति जनवरी जनसंख्‍या जनसुनवाई जनसूचना जनहित गारण्टी अधिनियम धर्मार्थ कार्य नकदीकरण नगर विकास निबन्‍धन नियमावली नियुक्ति नियोजन निर्वाचन निविदा नीति न्याय न्यायालय पंचायत चुनाव 2015 पंचायती राज पदोन्नति परती भूमि विकास परिवहन पर्यावरण पशुधन पिछड़ा वर्ग कल्‍याण पीएफ पुरस्कार पुलिस पेंशन प्रतिकूल प्रविष्टि प्रशासनिक सुधार प्रसूति प्राथमिक भर्ती 2012 प्रेरक प्रोन्‍नति प्रोबेशन बजट बर्खास्तगी बाट माप बेसिक शिक्षा बैकलाग बोनस भविष्य निधि भारत सरकार भाषा मकान किराया भत्‍ता मत्‍स्‍य मंहगाई भत्ता महिला एवं बाल विकास माध्यमिक शिक्षा मानदेय मानवाधिकार मान्यता मुख्‍यमंत्री कार्यालय युवा कल्याण राजस्व राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद राज्य सम्पत्ति राष्ट्रीय एकीकरण रोक रोजगार लघु सिंचाई लोक निर्माण लोक सेवा आयोग वरिष्ठता विकलांग कल्याण वित्त विद्युत विविध विशेष भत्ता वेतन व्‍यवसायिक शिक्षा शिक्षा शिक्षा मित्र श्रम सचिवालय प्रशासन सत्यापन सत्र लाभ सत्रलाभ समन्वय समाज कल्याण समाजवादी पेंशन समारोह सर्किल दर संवर्ग संविदा संस्‍थागत वित्‍त सहकारिता सातवां वेतन आयोग सामान्य प्रशासन सार्वजनिक उद्यम सार्वजनिक वितरण प्रणाली सिंचाई सिंचाई एवं जल संसाधन सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम सूचना सेवा निवृत्ति परिलाभ सेवा संघ सेवानिवृत्ति सेवायोजन सैनिक कल्‍याण स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन स्थानांतरण होमगाडर्स