Searching...
Thursday, May 21, 2015

राज्यकर्मियों का डीए जुलाई तक लटका, फसल बर्बादी का मुआवजा बांटने से सरकार के सामने धन का संकट, शासन ने लौटाई फाइल

  • एक्सक्लूसिव :  करना होगा इंतजार 
  • डीए का गणित : राज्यकर्मियों का डीए लटका 
  • फसल बर्बादी का मुआवजा बांटने से सरकार के सामने धन का संकट, शासन ने लौटाई फाइल 


बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि से केवल फसलों पर ही असर नहीं पड़ा है। कुदरत की मार का असर यह हुआ है कि प्रदेश के लाखों राज्य कर्मचारियों को मिलने वाला महंगाई भत्ता (डीए) देने में अब और देरी होगी। वजह है कि सरकार को बड़ी रकम किसानों को राहत बांटने में खर्च करनी पड़ रही है। कर्मचारियों को डीए अब जुलाई में मिलने के आसार हैं। 

कैश फ्लो की दिक्कत: उच्चपदस्थ सूत्रों के मुताबिक, वित्त विभाग ने जून में ही महंगाई भत्ता देने का प्रस्ताव सरकार को भेजा था लेकिन इसे कुछ समय रोकने की बात कहकर शासन ने वापस भेज दिया है। दरअसल, इस समय सरकार को ‘कैश फ्लो’ यानी नगद आमद की थोड़ी दिक्कत है। फसल बर्बाद होने से किसानों को तुरंत मदद के वास्ते वित्त विभाग ने अतिरिक्त रकम का बंदोबस्त किया। आमदनी प्रभावित: इसके लिए राज्य आकस्मिकता निधि की रकम 5000 करोड़ कर दी गई लेकिन राजस्व वसूली धीमी होने का असर सरकार की आमदनी पर पड़ गया। असल में राज्य कर्मचारियों के डीए के लिए मोटे तौर पर 1400 करोड़ रुपए का बंदोबस्त इस साल फरवरी में लाए गए बजट में किया गया था। 

जुलाई में देने की तैयारी: वित्त विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि राज्य कर्मचारियों को डीए सरकार जुलाई में देने की तैयारी में है। इसके तहत जून तक डीए की रकम जीपीएफ में जमा होगी। जुलाई का भत्त्ता नगद मिलेगा। यह पैसा एक अगस्त को मिलेगा। आंदोलन की चेतावनी: कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष वी पी मिश्र का कहना है कि सरकार पैसे की कमी बता कर डीए देने में आनकानी कर रही है लेकिन अनापश्नाप खर्चो में कमी नहीं हो रही है। अगर जल्द डीए का ऐलान नहीं हुआ तो 8 जून से सभी कर्मचारी संगठन मिलकर आंदोलन करेंगे। हमारी यह भी मांग है कि डीए दो महीने का नगद दिया जाए। अभी एक महीने का डीए दिया जाता है।

’कुदरती आपदा के कारण प्रदेश सरकार अब तक 1661करोड़ रुपए 41 लाख 73 हजार किसानों क ो बांट चुकी है। ’कुल 2447.95 करोड़ रुपए अब तक राहत आपदा पर खर्च किए जा चुके हैं। ’असमय मृत्यु के शिकार किसानों के परिजनों क ो प्रदेश सरकार की ओर से सात-सात लाख रुपए की सहायता दी गई है’लिहाजा महंगाई भत्ता देने में 1400 करोड़ का व्यय भार उठाना भारी पड़ रहा है।’सरकार को फिलहाल ‘कैश फ्लो’ यानी नगद आमद की दिक्कत हो रही है, इसके कारण प्रस्ताव वापस भेजना पड़ा।

’राज्य कर्मचारियों को इस साल का डीए एक जनवरी से देय है। यह केंद्र सरकार द्वारा तय छह प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ मिलना है। जुलाई महीने में दूसरी छमाही से डीए की दूसरी किश्त देय हो जाएगी। इस तरह 18 लाख राज्य कर्मचारियों क ो 113 प्रतिशत डीए दिया जाएगा। ’अभी यूपी में कार्यरत आईएएस व आईपीएस व आईएफएस अधिकारियों को भी डीए दिया जाना है।

संबन्धित खबरों के लिए क्लिक करें

GO-शासनादेश NEWS अनिवार्य सेवानिवृत्ति अनुकम्पा नियुक्ति अल्‍पसंख्‍यक कल्‍याण अवकाश आंगनबाड़ी आधार कार्ड आयकर आरक्षण आवास उच्च न्यायालय उच्‍च शिक्षा उच्चतम न्यायालय उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड उपभोक्‍ता संरक्षण एरियर एसीपी ऑनलाइन कर कर्मचारी भविष्य निधि EPF कामधेनु कारागार प्रशासन एवं सुधार कार्मिक कार्यवाही कृषि कैरियर कोर्टशाला कोषागार खाद्य एवं औषधि प्रशासन खाद्य एवम् रसद खेल गृह गोपनीय प्रविष्टि ग्रामीण अभियन्‍त्रण ग्राम्य विकास ग्रेच्युटी चतुर्थ श्रेणी चयन चिकित्सा चिकित्‍सा एवं स्वास्थ्य चिकित्सा प्रतिपूर्ति छात्रवृत्ति जनवरी जनसंख्‍या जनसुनवाई जनसूचना जनहित गारण्टी अधिनियम धर्मार्थ कार्य नकदीकरण नगर विकास निबन्‍धन नियमावली नियुक्ति नियोजन निर्वाचन निविदा नीति न्याय न्यायालय पंचायत चुनाव 2015 पंचायती राज पदोन्नति परती भूमि विकास परिवहन पर्यावरण पशुधन पिछड़ा वर्ग कल्‍याण पीएफ पुरस्कार पुलिस पेंशन प्रतिकूल प्रविष्टि प्रशासनिक सुधार प्रसूति प्राथमिक भर्ती 2012 प्रेरक प्रोन्‍नति प्रोबेशन बजट बर्खास्तगी बाट माप बेसिक शिक्षा बैकलाग बोनस भविष्य निधि भारत सरकार भाषा मकान किराया भत्‍ता मत्‍स्‍य मंहगाई भत्ता महिला एवं बाल विकास माध्यमिक शिक्षा मानदेय मानवाधिकार मान्यता मुख्‍यमंत्री कार्यालय युवा कल्याण राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद राज्य सम्पत्ति राष्ट्रीय एकीकरण रोक रोजगार लघु सिंचाई लोक निर्माण लोक सेवा आयोग वरिष्ठता विकलांग कल्याण वित्त विद्युत विविध विशेष भत्ता वेतन व्‍यवसायिक शिक्षा शिक्षा शिक्षा मित्र श्रम सचिवालय प्रशासन सत्यापन सत्र लाभ सत्रलाभ समन्वय समाज कल्याण समाजवादी पेंशन समारोह सर्किल दर संवर्ग संविदा संस्‍थागत वित्‍त सहकारिता सातवां वेतन आयोग सामान्य प्रशासन सार्वजनिक उद्यम सार्वजनिक वितरण प्रणाली सिंचाई सिंचाई एवं जल संसाधन सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम सूचना सेवा निवृत्ति परिलाभ सेवा संघ सेवानिवृत्ति सेवायोजन सैनिक कल्‍याण स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन स्थानांतरण होमगाडर्स