Searching...
Sunday, December 20, 2015

उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने का किया ऐलान, 32 सूत्री संघर्ष के लिए की कार्यक्रमों की घोषणा

लखनऊ : उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ के पदाधिकारियों ने शनिवार को सर्वसम्मति से सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने का ऐलान कर दिया। गांधी भवन सभागार में आयोजित कार्यसमिति की बैठक में निर्णय लिया गया कि 32 सूत्री मांगों के लिए 19 से 21 जनवरी 2016 में जीपीओ पार्क में तीन दिवसीय विशाल धरना दिया जाएगा। महासंघ के अध्यक्ष अजय सिंह और महामंत्री बजरंगबली यादव ने कहा कि सातवें वेतन आयोग की रिपोर्ट आ जाने के बाद भी हमें अपनी मांगों को पूरा करवाने के लिए केन्द्र और राज्य सरकार दोनों से संघर्ष करना होगा।

तय किया गया कि जनवरी में होने वाले तीन दिवसीय धरने के बाद मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपकर अगले चरण के आंदोलन की घोषणा की जाएगी। बैठक में ये भी जानकारी दी गई कि अखिल भारतीय राज्य सरकारी कर्मचारी महासंघ का सम्मेलन 19 व 20 फरवरी को वाराणसी में कराया जाएगा। बैठक में महासंघ महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष रानी वर्मा, महामंत्री राजेश्वरी सिंह, महासंघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रामप्रकाश यादव, उत्तर प्रदेश फेडरेशन ऑफ मिनिस्टीरियल सर्विस एसोसिएशन्स के अध्यक्ष हरीश सक्सेना, उत्तर प्रदेश चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष राम सुरेश व राजेश सिंह उपस्थित रहे।